बिहार में नई पाबंदियां, मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं|

Bihar Covid Guidelines: बिहार में नाइट कर्फ्यू, श्रद्धालुओं के लिए मंदिर बंद, सिनेमा पर भी ताले
बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं. इस वजह से अब राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला ले लिया है. भक्तों के लिए मंदिर भी अगले आदेश तक बंद कर दिए गए हैं. सिनेमा हॉल पर भी ताले लगा दिए गए हैं.

इसपे सवाल यह भी आता है कि क्या कोरोना की तीसरी लहर की इस तेज रफ्तार में बिहार एक बार फिर से लगेगी सम्पूर्ण lockdown ?

बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं. इस वजह से अब राज्य सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला ले लिया है. भक्तों के लिए मंदिर भी अगले आदेश तक बंद कर दिए गए हैं. सिनेमा हॉल पर भी ताले लगा दिए गए हैं.

बिहार में नई पाबंदियां

नए आदेश के मुताबिक बिहार में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगेगा. रात्रि कर्फ्यू 6 जनवरी से 21 जनवरी तक के लिए फिलहाल लगाया जा रहा है. इसके अलावा आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें रात 8 बजे तक ही खुली रहेंगी. लेकिन सभी पूजा स्थल श्रद्धालुओं के लिए अगले आदेश तक बंद कर दिए गए हैं. सिनेमा हॉल, जिम, पार्क, क्लब, स्टेडियम और स्विमिंग पूल पूरी तरीके से बंद रहने वाले हैं.

रेस्टोरेंट्स ढाबा 50 फ़ीसदी कैपेसिटी के साथ खुल सकेंगे. ये भी जानकारी दी गई है कि शादी विवाह में अधिकतम 50 व्यक्ति और अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 व्यक्ति शामिल होंगे. वहीं सभी राजनीतिक और सांस्कृतिक और सार्वजनिक आयोजनों में अधिकतम 50 व्यक्ति की अनुमति होगी. कक्षा 9-12 की क्लास और कॉलेज 50 फ़ीसदी उपस्थिति के साथ खुलेंगे. प्राइमरी से लेकर आठवीं तक सभी क्लास ऑनलाइन चलेंगे.

बिहार में कितने मामले?

इस सब के अलावा सभी सरकारी और गैर सरकारी कार्यालय 50 फ़ीसदी उपस्थिति के साथ खुलेंगे. अब ये सख्ती इसलिए दिखाई गई है क्योंकि बिहार में कोरोना के एक दिन में 893 नए मामले सामने आ गए हैं. राजधानी पटना में सबसे ज्यादा 565 मामले सामने आए हैं. जानकारी ये भी सामने आई है कि नीतीश कुमार ने समाज सुधार अभियान यात्रा और अपना साप्ताहिक जनता दरबार का कार्यक्रम 21 जनवरी तक स्थगित कर दिया है. ये फैसला भी कोरोना के बढ़ते संकट की वजह से लिया गया है.

वैसे ये सख्ती नीतीश कुमार ने इसलिए दिखाई है क्योंकि वे कई मौकों पर कह चुके हैं कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है. उन्होंने लगातार लोगों से अपील की है कि सावधानी बरतें. अब उस सावधारी का दायरा बढ़ाते हुए उन्होंने ये पाबंदियां लागू कर दी हैं. दूसरे कई राज्यों में भी ऐसी पाबंदियां लगा दी गई हैं. दिल्ली में तो वीकेंड लॉकडाउन लग चुका है.

Previous post केजरीवाल कोरोना संक्रमित हुए, न मास्क लगाए न ही मफलर , हालांकि लक्षण हल्के हैं।
Next post बंगाल: अस्पताल परिसर के उद्घाटन के दौरान मोदी से ममता नाराज, कहा- यह हम पहले ही कर चुके