• Sun. Jul 3rd, 2022

पहले ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार के ससुराल में २५ लाख की चोरी, फिर सरकारी गाड़ी के प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र की वैधता समाप्त होने से किरकिरी

Bystaff

Dec 11, 2021

पहले ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार के ससुराल में २५ लाख की चोरी, फिर सरकारी गाड़ी के प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र की वैधता समाप्त होने से किरकिरी

बिहार के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार का बुरा सप्ताह चल रहा है, शुक्रवार को उनके ससुराल में २५ लाख की चोरी हो गयी वही शनिवार को प्रदुषण पे भाषण दे रहे थे तभी पत्रकारों ने उनका ध्यान उनकी सरकारी गाड़ी की ओर दिलाया जिसकी प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (पीयूसी) की वैधता समाप्त हो चुकी थी।

मंत्री श्रवण कुमारअपनी सरकारी गाड़ी के प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (पीयूसी) की वैधता समाप्त होने को लेकर बुरे फंस गए। शनिवार को यहां एक कार्यक्रम के उद्घाटन के मौके पर पहुंचे मंत्री प्रदूषण नियंत्रण को लेकर जल जीवन हरियाली अभियान पर अपनी बात रख रहे थे तभी पत्रकारों ने उनका ध्यान उनकी सरकारी गाड़ी की ओर आकृष्ट किया । दरअसल, गाड़ी के प्रदूषण प्रमाणपत्र की अवधि दो अक्टूबर, 2021 को ही समाप्त हो चुकी थी । इस सवाल पर मंत्री झेंप गए । उन्होंने कहा कि वे इससे अनजान हैं। दरअसल, यह सरकारी गाड़ी है और संबंधित पदाधिकारी को इसका ध्यान रखना चाहिए। मंत्री ने यह भी कहा कि अगर ऐसा है तो मैं इसको तुरंत दुरुस्त करवाता हूं।

सीतामढ़ी जिला भारोत्तोलन संघ की ओर से डुमरा हवाई अड्डा मैदान में आयोजित 7वीं जूनियर स्टेट भारोत्तोलन प्रतियोगिता का उद्घाटन के लिए बतौर मुख्य अतिथि मंत्री पहुंचे हुए थे । मंत्री के साथ विधान पार्षद व सदन में पार्टी के उप नेता देवेश चंद्र ठाकुर समेत अन्य कई विधायक और नेता मौजूद थे । इस दौरान मंत्री श्रवण कुमार ने सरकार की उपलब्धियों को गिनाया । प्रदूषण के चलते होनेवाले नुकसान पर भी अपनी राय रख रहे थे । कहा कि बिहार को प्रदूषण मुक्त करने के लिए हमारी सरकार काफी जोर-शोर से लगी हुई है । प्रदूषण से बचाव के लिए जन जीवन हरियाली समेत कई अन्य बातें कहीं । लेकिन, मंत्री को तब इस बात को लेकर शर्मशार होना पड़ा जब उन्हें अपने पदाधिकारियों की लापरवाही से उन्हें ऐसे सवाल से दो-चार होना पड़ गया । यह बात सुनने वाले लोग कहने लगे कि नियम बनाने वाले जिम्मेवार मंत्री-अधिकारी के वाहनों में ही जब प्रदूषण और बीमा की अवधि फेल रहेगी तो फिर आमजन के ऊपर नियम कैसे चलेगा।

वही शुक्रवार की देर रात मंत्री श्रवण कुमार के ससुराल बेन थाना क्षेत्र के मरसुआ गांव में चोरों ने घर में घुसकर करीब 25 लाख की चोरी की घटना को अंजाम दिया। चोरी की सूचना मिलते ही मंत्री श्रवण कुमार की पत्नी मायके पहुंच गईं। सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है। हालांकि, राज्‍य के मंत्री के ससुराल में चोरी की घटना से पुलिस की चौकसी पर सवाल खड़े हो गए हैं।