• Sun. Aug 1st, 2021

703 किमी लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण हो चूका है प्लास्टिक वेस्ट का उपयोग करके

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, श्री नितिन गडकरी ने आज राज्य सभा में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने राष्ट्रीय राजमार्गों पर फुटपाथ के नवीनीकरण कोट करने में 5 लाख या उससे अधिक की आबादी वाले शहरी क्षेत्रों के 50 किमी परिधि के भीतर सर्विस रोड के दौरान बेकार प्लास्टिक के अनिवार्य उपयोग के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इंडियन रोड्स कांग्रेस (आईआरसी) ने वियरिंग कोर्स के लिए गर्म बिटुमिनस मिक्स में बेकार प्लास्टिक के उपयोग के लिए दिशानिर्देश तैयार किए हैं। अब तक देश में वियरिंग कोर्स में प्लास्टिक वेस्ट का उपयोग करके 703 किलोमीटर लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण किया जा चुका है। सामग्री, मशीनरी और जनशक्ति जैसे सभी इनपुट पर विचार करते हुए परियोजनाओं की लागत का अनुमान लगाया जाता है।
नवंबर 2015 में एक सरकारी आदेश ने देश के सभी सड़क बनानेवाली कंपनियों के लिए सड़क निर्माण के लिए बिटुमिनस मिक्स के साथ बेकार प्लास्टिक का उपयोग करना अनिवार्य कर दिया था। प्लास्टिक कचरा सड़क की मजबूती को बढ़ाने में मदद करता है। इन सड़कों में बारिश के पानी और ठंडे मौसम के प्रति बेहतर प्रतिरोध है। चूंकि सड़क के एक छोटे से हिस्से के लिए बड़ी मात्रा में प्लास्टिक कचरे की आवश्यकता होती है, इसलिए समाज में प्लास्टिक कचरे की मात्रा निश्चित रूप से कम हो जाएगी।